सॉफ्टवेयर कैसे बनाते है पूरी जानकारी सॉफ्टवेर डेवलपमेंट क्या है

Software कैसे बनाते है

क्या आप भी जानना चाहते है कि सॉफ्टवेयर कैस बनते है? इस पोस्ट में आपको बताऊंगा की सॉफ्टवेयर कैसे बनाये जाते है ? और सॉफ्टवेयर बनाने के लिए आपको क्या क्या पड़ना होता है ? आप बहुत से सॉफ्टवेयर का उपयोग भी किया होगा और अभी भी उपयोग करते होंगे क्या आपने कभी सोचा है की ये सॉफ्टवेयर कौन बनाता है और कैसे बनाये जाते है .

वैसे सॉफ्टवेयर के बहुत से प्रकार होते है उनके इस्तेमाल के उदाहरण के आधार पर Adobe Photoshop एक photo editing software है.वहीं गूगल क्रोम भी एक प्रकार का सॉफ्टवेयर है लेकिन ये एक इंटरनेट ब्राउज़र है जिसके थ्रू हम इंटनेट को ब्राउज कर सकते है. सॉफ्टवेयर को हम प्रोग्राम भी कहते है और इसे application भी कहा जाता है आपकी जानकारी के लिए मै आपको बता दू की सॉफ्टवेयर के दो प्रकार होते है .

1.  Application Software

Application software वो कंप्यूटर प्रोग्राम होते है जो किसी specific task या activity के लिए उपयोग किये जाते है. Example के लिए Adobe Photoshop को हम एक स्पेशल वर्क करने के लिए यूज़ करते है और वो है photo editing और वही पे गूगल क्रोम भी एक सॉफ्टवेयर है लेकिन इसे हम केवल इंटरनेट ब्राउज़िंग के लिए यूज़ करते है तो आप शायद समझ गए होंगे की Application software एक specific task या activity के लिए ही यूज़ किया जाता है.

List of some application softwares

1.    Google Chrome (Used to browse internet)
2.    Adobe Photoshop  (Used to edit photos)
3.    VLC Player (Used to play media files)
4.    Audacity (Used to record better audio )
5.    Micro Soft Paint (A Simple photo editing tool)

2. System Software

System software हम उसे कहते है जो हमारे कंप्यूटर के  hardware को रन करता है . simple words में कहे तो system software एक interface का कार्य करता है यूजर और कंप्यूटर के बीच System software के बिना हमारा कोई भी application run नहीं होगा और नहीं हम कंप्यूटर को operate कर पाएंगे. इस लिए system software का होना बहुत ही जरुरी है. (system software के under में operating software भी आते है)

List of some system softwares

1.    Android
2.    Apple iOS
3.    Windows 7
4.    Blackberry OS
5.    Mozilla OS
6.    Linux
7.    Unix
ये तो थी थोड़ी बहुत जानकारी softwares के टाइप के बारे में. अब हम इनके बारे में जानेंगे कि सॉफ्टवेयर बनाने के लिए हमारे पास क्या क्या होना चाहिए और हमें कब और कहां से शुरुआत करनी चाहिए.सॉफ्टवेयर बनाने के लिए आपके पास एक हाई क्वालिटी कंप्यूटर के साथ गुड प्रोसेसर और RAM.और इंटरनेट कनेक्शन और अच्छी टाइपिंग भी आनी चाहिए क्योंकि प्रोग्रामिंग के दौरान आपको बहुत ही codes write करने होते है ये तभी पॉसिबल होगा जब आपकी टाइपिंग स्पीड अच्छी होगी.अब हम जान लेते है जो सॉफ्टवेयर बनाते है उन्हें किस -किस नाम से बुलाया जाता है. कुछ लोग सॉफ्टवेयर डेवलपर कहते है तो कुछ लोग प्रोग्रामर भी कहते है तो कुछ लोग coder भी कहते है लेकिन इन सभी का मतलब एक ही होता है यानि सॉफ्टवेयर बनाने वाला.अभी और भी चीजें हमें जाननी है जैसे कौन से लैंग्वेज उसे किया जाते है सॉफ्टवेयर बनाने के लिए ?

Software बनाने के लिए किस लैंग्वेज का यूज किया जाता है

वैसे तो वर्ल्ड में बहुत से प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है लेकिन ये डिपेंड करता है आपके ऊपर की आप किस पर्पस से सॉफ्टवेयर बनाना चाहते है क्योंकि कुछ लैंग्वेज बहुत ही हार्ड होते है जिन्हें समझने के लिए आपके पास बहुत सी जानकारी होनी चाहिए.लेकिन आप पहले बेसिक लैंग्वेज से ही शुरू कर सकते है.आपके लिए बेहतर होगा की आप बेसिक लैंग्वेज को ही  चुनें करे उसके बाद एडवांस्ड को चुना करे.निचे लिस्ट दिए गए है कुछ पॉपुलर प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज के.

C Language

ये एक बहुत ही ओल्डर लैंग्वेज है लेकिन इसे अभी भी यूज़ किया जाता है लो लेवल प्रोग्राम्स बनाने के लिए.इसे बहुत बेसिक लैंग्वेज भी कहा जाता है और ये कंप्यूटर के हार्डवेयर के साथ अच्छे से इंटरैक्ट भी कर लेता है.

C++  Language

ये एक ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड वर्शन है C का और ये बहुत ही पॉपुलर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है इस पुरे वर्ल्ड में.बहुत से पॉपुलर  softwares for example Crome , Photoshop aur fireox jaise softwares bhi C++ से ही बनाये गए है.और इस लैंग्वेज को वीडियो गेम्स बनाने के लिए भी यूज़ किया जाता है.

Java Language

इस लैंग्वेज का evolution C++ से हुआ है और इसे यूज़ करने का एक ही रीज़न है और वो है सिम्पलिसिटी यानि ये बहुत ही सिंपल है और पोर्टेबल भी.ऑलमोस्ट सभी system Java Virtual machine को रन कर सकते है जिसके रीज़न से सभी जावा के Software रन कर सकते है किसी भी कंप्यूटर पर.जावा का उसे अक्सर वीडियो गेम्स बिज़नेस Software और भी बहुत से टाइप्स के सॉफ्टवेयर क्रिएट करने के लिए किया जाता है.और बहुत से लोग इस  langugage को बेहत लाइक करते है और एक दूसरे को रेकमेंड भी करते है.

Python Language

Python एक बहुत ही सिंपल लैंग्वेज है लर्न करने के लिए और इसे सबसे easiest लैंग्वेज भी कहा जाता है. Python को खास कर के वेब डेवलपमेंट में ही यूज़ किया जाता है.

PHP Language

PHP कोई सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट लैंग्वेज नहीं है बल्कि ये एक वेब डेवलपमेंट का लैंग्वेज है अगर आप वेब डेवलपमेंट इन इंटरेस्ट रखते है तो आपके के लिए php सबसे अच्छा विकल्प है.
 “दोस्तों हमारा यह लेख सॉफ्टवेयर कैसे बनाते है आप सबको कैसा लगा निचे कमेंट जरुर कीजिये”

Free Exclusive Traffic Tips

About the Author: Dharmendra Yadav

Dharmendra Yadav is a PHP developer. Dharmendra Yadav background includes B.Tech in Computer Science and Engineering. Currently he is working with CORE PHP, CODEIGNITER, , Laravel, Opencart, JAVASCRIPT, JQUERY, AJAX, WORDPRESS, WEB API technologies , Smarty.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *